आउट होने के तरीके से निराश नहीं हैं सूर्यकुमार यादव, कहा-कुछ चीजें मेरे नियंत्रण में नहीं-india vs england not disappointed with my dismissal these things not in my control suryakumar yadav

सूर्यकुमार यादव ने चौथे टी20 में 31 गेंद पर 57 रन बनाए.(PIC:AP)

India vs England: सूर्यकुमार ने 31 गेंदों पर 57 रन की पारी खेली जिससे भारत ने गुरुवार की रात को इंग्लैंड को चौथे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में आठ रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज 2-2 से बराबर की.

नई दिल्ली. सूर्यकुमार यादव ने अपने दूसरे अंतरराष्ट्रीय मैच में ही शानदार पारी खेली जिसका अंत विवादास्पद रहा. हालांकि सूर्यकुमार इससे निराश नहीं है और उन्होंने कहा कि कुछ चीजें खिलाड़ियों के नियंत्रण में नहीं होती हैं. सूर्यकुमार ने 31 गेंदों पर 57 रन की पारी खेली जिससे भारत ने गुरुवार की रात को इंग्लैंड को चौथे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में आठ रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज 2-2 से बराबर की. जब वह इंग्लैंड के गेंदबाजों पर हावी हो चुके थे तब मुंबई के इस बल्लेबाज को विवादास्पद तरीके से आउट दे दिया गया.

डेविड मलान ने सैम कुरेन की गेंद पर सूर्यकुमार का सीमा रेखा पर कैच लिया जिसमें रीप्ले से साफ लग रहा था कि गेंद ने जमीन को स्पर्श किया है लेकिन कई कोण से रीप्ले देखने के बाद तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर का आउट का फैसला बने रहने दिया. सूर्यकुमार ने मैच के बाद कहा, ‘‘जहां तक मेरे आउट होने की बात है तो मैं वास्तव में निराश नहीं हूं क्योंकि कुछ चीजें मेरे नियंत्रण में नहीं हैं. जो चीजें मेरे नियंत्रण में हैं मैं उन पर नियंत्रण रखने की कोशिश करता हूं. इससे बाहर की चीजें मेरे नियंत्रण में नहीं होती हैं. ’’उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जिस पहली गेंद का सामना किया उस पर छक्का लगाया और यह गेंद किसी और की नहीं बल्कि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की थी.

यह भी पढ़ें:

IND vs ENG: बेन स्टोक्स ने कहा- हम जीत को आदत बनाना चाहते हैं, अंतिम मैच में नहीं छाेड़ेंगे कोई कसरIND vs ENG: टी20 वर्ल्ड कप से पहले सामने आई पंड्या की कमजोरी; शॉर्ट पिच गेंदों से परेशान, स्ट्राइक रेट सिर्फ 107 का

सूर्यकुमार ने कहा, ‘‘जिस तरह से चीजें आगे बढ़ी उससे मैं वास्तव में खुश हूं. जब मैं बल्लेबाजी के लिये उतरा तो मेरी रणनीति स्पष्ट थी. मैंने आईपीएल के पिछले दो तीन सत्रों में आर्चर को देखा था. मैंने उनके सभी मैच देखे थे और जानता था कि नये बल्लेबाज के लिये उनकी रणनीति क्या होती है. मैंने उसी हिसाब से अपनी रणनीति बनायी थी. ’’उन्होंने कहा कि भारत के लिये तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करना मेरे लिये बहुत बड़ा मौका था. जब मुझे पता चला कि मुझे तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करनी है तो मैं बहुत खुश था. मैं जानता था कि मैंने पूर्व में क्या किया है और मुझे उसी के अनुसार चलना है. सूर्यकुमार ने कहा कि वह इस तरह की परिस्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ थे और कुछ भी अलग हटकर नहीं करना चाहते थे.




Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles