अब सरकार की सख्ती आप पर पड़ेगी भारी, अनावश्यक घूम रहे 1900 लोगों पकड़ा, क्वारेंटाइन किया Rajasthan News-Jaipur News-Now governments strictness will fall on you havey-1900 people quarantined

3 मई को राज्य में अनावश्यक खुले में घूमकर संक्रमण फैलाने वाले 1900 व्यक्तियों को निरूद्ध कर उन्हें संस्थागत क्वारन्टीन किया गया है. (सांकेतिक)

Government’s strictness on corona protocol: गहलोत सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुये अनावश्यक रूप से बाहर घूमने वाले 1900 लोगों को पकड़कर संस्थागत क्वारन्टीन कर दिया है.

जयपुर. बेकाबू हुई कोरोना की दूसरी खतरनाक वेव (Second wave of corona) को थामने के लिये प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार की ओर से लागू किये गये ‘रेड अलर्ट जनअनुशासन पखवाड़े’ (Red Alert Public Discipline Fortnight) को गंभीरता से लें. कोरोना महामारी के मद्देनजर इसे रोकने लिये जारी की गई राज्य सरकार की गाइडलाइन के उल्लंघन करना अब आपको भारी पड़ सकता है. क्योंकि महामारी के कारण प्रदेशभर में बिगड़े हालात को काबू करने के लिये सरकार पूरी तरह से सख्ती के मूड में आ गई है. इसी का परिणाम है कि कोरोना कर्फ्यू में अनावश्यक घूम रहे 1900 लोगों को पकड़कर संस्थागत क्वारन्टीन कर दिया गया है. वहीं नियम तोड़ने वाले लोगों से लाखों रुपयों को जुर्माना वसूला जा चुका है. इनके अलावा कोविड-19 महामारी में मेडिकल ऑक्सीजन और अति आवश्यक दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है. ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए राज्य सरकार ने एक स्पेशल टीम गठित की है. कालाबाजारी के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय ने जारी की है गाइडलाइन पुलिस महानिदेशक एम.एल. लाठर ने बताया कि इस संबंध में मिले निर्देशों की पालना में नियमों का उल्लंघन करने वालों की सतर्कतापूर्वक पहचान की जाकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई शुरू कर दी गई है. लाठर ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कोरोना के इलाज में काम आने वाली दवाइयों, इंजेक्शनों की जमाखोरी, अधिक कीमत और नकली दवाइयों को बेचने और दवाइयों की कालाबाजारी रोकने के संबंध में कार्रवई के निर्देश दिए हैं. इसमें आमजन का उसकी असहाय स्थिति एवं परेशानी में शोषण कर लाभ कमाने का घृणित प्रयास करने वालों के खिलाफ विशेष टीम गठित कर आपराधिक अभियोग चलाने की कार्रवाई के आदेश हैं.1900 व्यक्तियों को किया संस्थागत क्वारन्टीन लाठर ने बताया कि 3 मई को राज्य में अनावश्यक खुले में घूमकर संक्रमण फैलाने वाले 1900 व्यक्तियों को निरूद्ध कर उन्हें संस्थागत क्वारन्टीन किया गया है. बिना मास्क के घर से निकलने वाले अथवा मास्क को मुंह एवं नाक पर ठीक प्रकार से नहीं लगाने वाले 2701 व्यक्तियों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है. इसी अवधि में सार्वजनिक स्थलों पर थूकने वाले 2120 व्यक्तियों और संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक सामाजिक दूरी संधारित नहीं करने वाले 26840 व्यक्तियों के विरूद्ध जुर्माने की कार्रवाई की गई है.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,765FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles